रायपुर‌- मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले के मरवाही तहसील ब्लाक मुख्यालय को नगर पंचायत का दर्जा देने का ऐलान किया है। यह ऐलान उन्होंने विश्व आदिवासी दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले के जनप्रतिनिधियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग से चर्चा के दौरान किया। विश्व आदिवासी दिवस पर हाईटेक तरीके से कार्यक्रम का आयोजित किया जा रहा है ।जिसमें अलग-अलग स्थानों से लोग वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़े और अपनी बात रखी। इस मौके पर गौरेला पेंड्रा मरवाही के जनप्रतिनिधियों को वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से बातचीत का अवसर मिला।

इस अवसर पर वहां के जनप्रतिनिधियों ने कई मांगे रखी। प्रमोद परस्ते ने बताया कि जिले का सबसे पुराना और बड़ा तहसील मरवाही है ।लेकिन इसका मुख्यालय ग्राम पंचायत है। जिससे विकास नहीं हो पा रहा है। उन्होंने मुख्यमंत्री से मरवाही को नगर पंचायत का दर्जा देने की मांग की । जिस पर सीएम भूपेश बघेल ने सहमति जताते हुए मरवाही को नगर पंचायत का दर्जा देने का ऐलान मंच से किया ।इसके साथ ही अन्य कई सड़कों और स्कूल की स्थापना की भी घोषणा की गई है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की इस घोषणा पर गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले के जनप्रतिनिधियों ने बड़ी प्रसन्नता व्यक्त की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here